महिला की छत से गिरकर मौत

उरई। सिरसाकलार थाना क्षेत्र में एक महिला की घर की छत से गिरकर मौत हो गई। कासिमपुर गांव में हुई इस घटना में मरने वाली महिला का नाम पुष्पा देवी बताया गया।

Advertisements

नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में वांछित गिरफ्तार

उरई। रामपुरा थाने में नाबालिग से हुए दुष्कर्म के मामले में वांछित सुरजीत निवासी गोरा चिरइया को बुधवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। ध्यान रहे कि इस मामले में इसका साथी जंगबहादुर पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।

शौंच के लिए गई युवती का मंगलसूत्र छीनते युवक पकड़ा

उरई। सिरसाकलार थाने के सिमरा गांव में शौंच के लिए गई युवती का मंगलसूत्र छीनकर भाग रहे युवक को गांव वालों ने दबोच लिया। और बाद में डायल-100 पर फोन कर उसे पुलिस के हवाले कर दिया।
सोनू पुत्री रमेश चंद्र उक्त गांव में आज सुबह शौंच के लिए जा रही थी तभी गांव का ही युवक कृष्णकुमार उर्फ लला अवस्थी (30वर्ष) अचानक उस पर झपट पड़ा और मंगलसूत्र छीनकर भागने लगा। पहले तो युवती किंकर्तव्य विमूढ़ता के कारण अवाक हो गई। लेकिन तंद्रा टूटने पर वह चिल्लाने लगी जिससे गांव के अन्य लोग दौड़ पड़े और उन्होंने युवक को दबोच लिया। युवक को जबर्दस्त नशे का आदी बताया जाता है। पुलिस हिरासत में भी वह बेखुदी की हालत में था। प्रभारी निरीक्षक रुद्र कुमार सिंह ने बताया कि उसके होश में आने की प्रतीक्षा की जा रही है। तांकि उससे पूंछतांछ की जा सके।

राजेंद्र नगर में चोरी, 85 हजार की नगदी सहित लाखों का माल पार

उरई। मोहल्ला राजेंद्र नगर में घर के लोगों के बाहर गये होने का लाभ उठाकर चोरों ने सेंधमारी कर दी और 85 हजार रुपये की नगदी सहित लाखों का चूना लगाकर चले गये।
एसआरपी इंटर काॅलेज के पास रहने वाले प्रेमशंकर 21 मई को सपरिवार अपने साले के यहां शादी में हमीरपुर जिले के मवई जार गांव में चले गये थे। मंगलवार को जब वे वापस लौटे तो उन्हें अपने घर में सूपड़ा साफ मिला। 50 हजार रुपये उनके, 30 हजार रुपये पत्नी के और 5 हजार रुपये लड़की के चोर लाखों रुपये के जेवरात के साथ तड़ ले गये थे। यह देखकर उन्होंने माथा पीट लिया। घटना की जानकारी लिखित रूप में कोतवाली पुलिस को दे दी गई है।

नेत्रहीन बच्चों के विद्यालय को नये भवन में स्थानांतरित कराने के लिए डाॅ. कुमारेंद्र ने सदर विधायक को सौंपा ज्ञापन

उरई। नगर के मोहल्ला शांति नगर में संचालित अंध विद्यालय के नेत्रहीन दिव्यांग प्रधानाचार्य और नेत्रहीन दिव्यांग छात्रों ने युवा सामाजिक कार्यकर्ता डाॅ. कुमारेंद्र सिंह के नेतृत्व में सदर विधायक गौरी शंकर वर्मा को एक ज्ञापन सौंपा है। गौरतलब है कि डाॅ. कुमारेंद्र सिंह सेंगर दिव्यांग शक्ति अभियान के द्वारा दिव्यांगजनों की सहायता करते आये हैं। ज्ञापन के माध्यम् से उन्होंने अपनी समस्याओं से सदर विधायक को अवगत कराते हुए उनसे विद्यालय और आवासीय व्यवस्था नये भवन में स्थानांतरित कराने की मांग की है।
आपको अवगत कराते चलें कि शांति नगर में शिव अंखड ज्योति द्वारा संचालित अंध विद्यालय का भवन जर्जर हालत में है। जिसको देखते हुए इसके ठीक बगल में एक नये भवन का निर्माण समिति प्रबंधक द्वारा सांसद और विधायक निधि लेकर कराया गया है। अब जबकि नया भवन तैयार हो चुका है तो प्रबंधक उसमें नेत्रहीन बच्चों को स्थानांतरित करने में आनाकानी कर रहे हैं। प्रधानाचार्य और बच्चों को कहना है कि प्रबंधक की मंशा उनको बाहर निकालने की है जिससे वो नये सिरे से अपनी मनमानी कर सकें। प्रबंधक पर इनके द्वारा यह भी आरोप लगाया गया कि वे अंध विद्यालय के नाम पर लोगों से आर्थिक मदद लेकर हजम कर गये।
Continue reading

भांग के गैरकानूनी ठेके चलवा रहा आबकारी विभाग, जिनमें सरेआम बिकता है गांजा

उरई। जिले में आबकारी विभाग की मिलीभगत के कारण भांग की कई अनधिकृत दुकानें सरेआम संचालित हो रहीं हैं। इतना ही नही इन दुकानों में भांग की आड़ में गांजे की बिक्री की जा रही है और आबकारी विभाग कानों में तेल डालकर बैठा हुआ है।
गैर कानूनी रूप से संचालित भांग ये ठेके भेड़ न्यामतपुर, ईंटों, उसरगांव, जोल्हूपुर मोड़ कैलिया, नदीगांव और उरई के मोहल्लों बघौरा व उमरारखेरा में संचालित हैं। इससे एक ओर जहां राजस्व की हानि हो रही है वहीं हानिकारक मादक द्रव्यों के इस्तेमाल को बढ़ावा मिल रहा है। गौरतलब यह है कि जिले को भांग के ठेकों के लिहाज से दो सर्किलों में बांटा गया है। सर्किल एक उरई में एक दर्जन दुकानें हैं जो कि उरई के मोहल्ला गोपालगंज, गणेश गंज, रामनगर, तुफैलपुरवा, पटेल नगर, जिला परिषद के साथ-साथ एट, कोटरा, आटा, कालपी के अलावा दो ठेके कोंच में स्थापित हैं। सर्किल दो जालौन में 11 ठेके हैं जो कि जालौन के सब्जीमंडी, देवनगर चैराहा के अलावा, माधौगढ़, जगम्मनपुर, रामपुरा, बंगरा, कुठौंद, मदारीपुर, सिरसाकलार, गोहन और ऊमरी में स्थापित हैं। इनके अलावा जो भी भांग के ठेके चालये जा रहे हैं वे सभी गैरकानूनी हैं लेकिन आश्चर्य यह है कि फिर भी आबकारी विभाग कार्रवाई नही कर पा रहा आखिर ऐसा क्यों।

गर्मी के मौसम में भी जलापूर्ति की परेशानी को लेकर गंभीर नही जल संस्थान, कुठौंद में चार दिन से मचा है हाहाकार

उरई। गर्मी के मौसम में जलापूर्ति को दुरुस्त रखने की युद्ध स्तरीय तत्परता के निर्देशों के बावजूद जल संस्थान के अधिकारी संवेदनहीनता की आदत से मजबूर होने के कारण प्यास से तड़पते लोगों की अनदेखी से बाज नही आ रहे।
कस्बा कुठौंद में टयूबवैल नंबर-2 की मोटर चार दिन से फुंकी पड़ी है। जिससे पानी को लेकर त्राहि-त्राहि की स्थिति देखी जा रही है। लेकिन जल संस्थान के अभियंता लोगों की तकलीफ की कोई सुध नही ले रहे। जल संस्थान का आॅफिस बुधवार को बंद था। आॅपरेटर से पूंछा तो उसने न तो किसी अधिकारी का नंबर बताया और न ही मोटर कब तक ठीक होगी इसकी जानकारी दी। लोगों में जल संस्थान के इस रवैये से भीषण आक्रोश व्याप्त है।